45+ Best Shayari On Eyes

Shayari On Eyes

आँखे एक ऐसी चीज़ है जो की कुछ भी बोले बिना बहुत कुछ कह जाती है। कई लोग गूगल पर सर्च करते है Shayari On Eyes, जो की वह अपने पसंदीदा व्यक्ति को शेयर करना चाहते है।

इसी लिए हमने यहाँ पर शेयर किये है कुछ बेस्ट Shayari On Eyes जो की आप अपने सोशल मीडिया प्रोफाइल्स लिखे जैसे की फेसबुक, इंस्टाग्राम और व्हाट्सप्प पर शेयर कर सकते है।


Shayari On Eyes

1. जाती है इस झील की गहराई कहाँ तक, आँखों में तेरी डूब के देखेंगे किसी रोज।


2. कोई दीवाना दौड़ के लिपट न जाये कहीं, आँखों में आँखें डालकर देखा न कीजिए।


3. मेरे बस में अगर होता हटा कर चाँद तारों को, मैं नीले आसमां पे बस तेरी आँखें बना देता


4. जो उनकी आँखों से बयां होते हैं, वो लफ्ज़ शायरी में कहाँ होते हैं।


5. बिना पूछे ही सुलझ जाती हैं सवालों की गुत्थियाँ, कुछ आँखें इतनी हाज़िर-जवाब होती हैं।

Shayari On Eyes

6. जो सूरुर है तेरी आँखों में वो बात कहां मैखाने में, बस तू मिल जाए तो फिर क्या रखा है ज़माने में।


7. कोई आँख जैसे कोहरे में दबी-दबी सी चमके, तेरी झिलमिलाती आँखों में अजीब सा शमा है।


8. जीना मुहाल कर रखा है मेरी इन आँखों ने, खुली हो तो तलाश तेरी बंद हो तो ख्वाब तेरे।


9. एक सी शोखी खुदा ने दी है हुस्नो-इश्क को, फर्क बस इतना है वो आंखों में है ये दिल में है।


10. बस इक लतीफ तबस्सुम बस इक हसीन नजर, मरीजे-गम की हालत सुधर तो सकती है।

Shayari On Eyes

11. हम तो फना हो गए उनकी आँखे देखकर, ना जाने वो आइना कैसे देखते होंगे


12. तुम्हारी निगाहें बहुत बोलती हैं, जरा अपनी आँखों पे पलके गिरा दो


13. न जाने क्या है किसी की उदास आँखों मैं, वो मुंह छुपा के भी जाए तो बेवफ़ा न लगे


14. खुलते हैं मुझ पे राज कई इस जहान के, उसकी हसीन आँखों में जब झाँकता हूँ मैं।


15. हर बार तेरी मुस्कुराती आँखों को देखता हूँ, चला आता हूँ तेरे पास ख़यालों में उड़ते हुए

Shayari On Eyes

Shayari For Eyes

16. ये जो नज़रों से तुम मेरे दिल पर वार करते हो, करते तो ज़ूल्म हो, साहिब मगर कमाल करते हो


17. सिर्फ हाथों को न देखो, कभी आँखें भी पढ़ो, कुछ सवाली बड़े खुद्दार हुआ करते हैं!


18. ढूँढ़ते क्या हो खुद को मेरी आँखों में, दिल में उतर कर देखो बसेरा है तुम्हारा


19. सुना है तेरी आँखों मैं सितारे जगमगाते हैं, इजाज़त हो तो मैं भी अपने दिल मै रोशनी कर लू


20. क्या कशिश थी उस की आँखों में मत पूछो, मुझ से मेरा दिल लड़ पड़ा मुझे यही चाहिये

Shayari On Eyes

21. चख के देख ली दुनिया भर की शराब की बोतलें, जो नशा तेरी आँखों में था वो किसी में नहीं


22. खुबसूरत है ऑंखें तेरी रात को जागना छोड़ दे, खुद-ब-खुद नींद आ जायगी तो मुझे सोचना छोड़ दे


23. इजहार ऐ इश्क महफिल में आँखों से बयाँ हो रहा था, कैसें बचातें दिल को, जब कातिल से ही इश्क हो रहा था


24. अगर है गहराई तो चल डुबा दे मुझ को, समंदर नाकाम रहा अब तेरी आँखो की बारी है


25. मुस्कुरा के देखा तो कलेजे में चुभ गयी, खँजर से भी तेज़ लगती हैं आँखें जनाब की।

Shayari On Eyes

26. क़ैद ख़ानें हैं, बिन सलाख़ों के, कुछ यूँ चर्चें हैं, तुम्हारी आँखों के


27. जो उनकी आँखों से बयां होते हैं, वो लफ्ज़ शायरी में कहाँ होते हैं


28. कभी तो कोई देखे हमारी तरफ भी, किसी की आँखो में हमको भी इंतजार दिखे


29. मेरी ‪आँखों में ‪झाँक के तो ‪देख ‎पगली, कैसे कैसे ‎प्लान बना के ‪बैठा हूँ तुझे ‎पाने के लिए


30. आँख से दूर सही दिल से कहाँ जाएगा, जाने वाले तो हमें याद बहुत आएगा

Shayari On Eyes

Shayari On Eyes In Hindi

31. हज़ार बार मरना चाहा निगाहों मैं डूब कर हमने फ़राज़, वो निगाहें झुका लेते हैं हमें मरने नहीं देते


32. ज़ीना मुहाल कर रखा है मेरी इन आँखों ने, खुली हो तो तलाश तेरी बंद हो तो ख्वाब तेरे


33. मुझे मालूम है तुमने बहुत बरसातें देखी है, मगर मेरी इन्हीं आँखों से सावन हार जाता है


34. अबकी बार तुम मिले तो पलके बंद ही रखेंगे, ये बातूनी आंखें मुंह को कुछ बोलने नहीं देती


35. कैसे बयाँ करें हम यह हाल-ए-दिल आपको, कि तुम्हीं हो जिसके बगैर हम रह नहीं सकते।

Shayari On Eyes

36. जो सुरूर है तेरी आँखों में वो बात कहां मैखाने में, बस तू मिल जाए तो फिर क्या रखा है ज़माने में


37. वो शख्स जिसकी आँखों में इंकार के सिवा कुछ भी नही, ना जाने क्यों उसकी आँखों पे जिंदगी लुटाने को जी चाहता है


38. तेरी आँखों की कशिश खींचती है इस कदर, ये दिल सिर्फ बहलता नहीं बहक जाता है


39. तेरी आँखों की तौहीन नहीं तो और क्या है यह, मैंने देखा तेरे चाहने वाले कल शराब पी रहे थे।


40. क्या कशिश थी तुम्हारी आँखों मे, तुझको देखा और तेरा हो गया

Shayari On Eyes

Shayari About Eyes

41. हम वो है जो आंखो में आंखे डाल के, सच जान लेते हैं, तुझसे मुहब्बत है, बस इसलिये तेरे झूठ भी सच मान लेते है!


42. तुम्हारे चाँद से चेहरे की अगर दीद हो जाए, कसम अपनी आँखों की हमारी ईद हो जाए


43. होता है राजे-इश्को-मुहब्बत इन्हीं से फाश, आँखें जुबाँ नहीं है मगर बेजुबाँ नहीं।


44. तेरी आँखों में जो संवर जाये वो ख्वाब हूँ मैं, तेरे नाम पे जो लुट जाये वो प्यार हूँ मैं


45. सौंदर्य को आंखों से देखा जाता है, व्यक्तित्व को हृदय से देखा जाता है।

Shayari On Eyes

46. भूरी सी आँख की सफेद सी पुतली है, फूल से चाँद पर बादलों की तितली है


47. जब बिखरेगा तेरी गालों पे तेरी आँखों का पानी, तब तुझे एहसास होगा की मोहब्बत किसे कहते है


सारांश

आँखों पर शायरी कई लड़कियों को पसंद आती आती है और अगर आप किसी लड़की को पसंद करते है तो आप उनको यह Shayari On Eyes जरूर शेयर कीजियेगा जिससे वह आपसे बहुत प्रभावित होंगी।

नया पेज पुराने